SSL क्या है और वेबसाइट में SSL Certificate का महत्व?

SSL क्या है और वेबसाइट में SSL Certificate का महत्व?
Ghanshyam Jadhav

Ghanshyam Jadhav

Jan. 29 2024

5.6k

SSL एक सुरक्षा प्रोटोकॉल है जो वेबसाइट और ब्राउज़र के बीच सुरक्षित कनेक्शन स्थापित करता है और डेटा को एन्क्रिप्ट करने में सहायता करता है।

आज हम SSL Kya Hai और इसका उपयोग क्यों किया जाता है इसके बारे में चर्चा करेंगे। आपने शायद वेबसाइट के पते बार में HTTPS देखा होगा, इसका अर्थ है कि वेबसाइट SSL का उपयोग कर रही है। SSL एक सुरक्षा प्रोटोकॉल है (Transport Layer Securityजो इंटरनेट पर डाटा को सुरक्षित ढंग से स्थानांतरित करने में सहायता करता है।

SSL Kya Hai?

SSL, जिसका मतलब है Secure Sockets Layer, एक क्रिप्टोग्राफिक प्रोटोकॉल (Transport Layer Security) है। यह वेबसाइट और ब्राउज़र के बीच सुरक्षित कनेक्शन स्थापित करता है। इस कनेक्शन का उपयोग डेटा को एन्क्रिप्ट करने और सुरक्षित करने में किया जाता है, जिससे हैकर्स और अन्य अनधिकृत उपयोगकर्ताओं द्वारा उसका पढ़ना या परिवर्तित करना कठिन हो जाता है।

SSL का उपयोग कहां किया जाता है?

SSL का उपयोग विभिन्न प्रकार की वेबसाइटों पर किया जाता है, जिसमें शामिल हैं:

  • ई-कॉमर्स वेबसाइटें: SSL का उपयोग ई-कॉमर्स वेबसाइटों पर क्रेडिट कार्ड और अन्य व्यक्तिगत जानकारी की सुरक्षा के लिए किया जाता है।
  • बैंकिंग वेबसाइटें: SSL बैंकिंग वेबसाइटों पर खाता जानकारी और लेन-देन की सुरक्षा के लिए उपयोग करती है।
  • सरकारी वेबसाइटें: SSL सरकारी वेबसाइटों पर संवेदनशील जानकारी की सुरक्षा के लिए उपयोग करती है।
  • ईमेल सेवाएं: SSL ईमेल सेवाओं पर ईमेल की सुरक्षा के लिए उपयोग करती है।

इसे पढ़े:

एसएसएल कैसे काम करता है?

SSL दो कुंजियों का उपयोग करता है: एक सार्वजनिक कुंजी और एक निजी कुंजी। सार्वजनिक कुंजी को वेबसाइट पर प्रकाशित किया जाता है, जबकि निजी कुंजी वेबसाइट के मालिक के पास रखी जाती है।

SSL-सुरक्षित वेबसाइट पर जब कोई उपयोगकर्ता जाता है, तो उसका ब्राउज़र वेबसाइट से सार्वजनिक कुंजी मांगता है। वेबसाइट सार्वजनिक कुंजी भेजती है। ब्राउज़र तब एक अनोखी सत्र कुंजी उत्पन्न करता है और इसे सार्वजनिक कुंजी की मदद से एन्क्रिप्ट करता है।

एन्क्रिप्टेड सत्र कुंजी को वेबसाइट को भेजा जाता है। वेबसाइट अपनी निजी कुंजी का उपयोग करके सत्र कुंजी को डिक्रिप्ट करती है। अब, वेबसाइट और ब्राउज़र के बीच डेटा को एन्क्रिप्ट करने के लिए सत्र कुंजी का उपयोग हो सकता है।

SSL के फायदे:

SSL का उपयोग करने से विभिन्न लाभ होते हैं, जो निम्नलिखित हैं:

  • डेटा सुरक्षा: SSL डेटा की सुरक्षा प्रदान करता है जिसे एन्क्रिप्ट करके हैकर्स और अन्य अनधिकृत उपयोगकर्ताओं से बचाता है।
  • गोपनीयता: SSL उपयोगकर्ताओं की संवेदनशील जानकारी की गोपनीयता की सुरक्षा सुनिश्चित करता है।
  • विश्वसनीयता: SSL वेबसाइटों की विश्वसनीयता बढ़ाता है, जिससे उपयोगकर्ताओं को उनसे व्यापार करते समय आत्मविश्वास मिलता है।

SSL खरीदना:

SSL प्रमाणपत्र खरीदने के लिए, आपको किसी प्रमाणपत्र प्रदाता से संपर्क करने की आवश्यकता होगी। प्रमाणपत्र प्रदाता आपको विभिन्न प्रकार के प्रमाणपत्र उपलब्ध कराएंगे, जिनकी कीमतें विभिन्न होती हैं। SSL प्रमाणपत्र सामान्यतया वार्षिक आधार पर नवीनीकरण होते हैं।

यदि आप Konigal के साथ साइनअप करके वेबसाइट बनाते हैं, तो आपको SSL सर्टिफिकेट मुफ्त में प्रदान किया जाता है।

Konigle Signup Flow
Konigle Signup Flow

इसे पढ़े:

Conclusion

उम्मीद है SSL Kya Hai और एसएसएल कैसे काम करता है यह आप जान गए होंगे। SSL एक महत्वपूर्ण सुरक्षा प्रोटोकॉल है, जो इंटरनेट पर डेटा की सुरक्षा में सहायता करता है। यदि आपकी वेबसाइट पर संवेदनशील जानकारी होती है, तो आपको SSL का उपयोग करने का विचार करना चाहिए।

Frequently asked questions

SSL का मतलब है सिक्योर सॉकेट लेयर। यह एक तकनीक है जो इंटरनेट पर डेटा को सुरक्षित रखने के लिए उपयोग की जाती है। यह डेटा को एन्क्रिप्ट करता है ताकि केवल अधिकृत उपयोगकर्ता ही इसे पढ़ सकें।

Ghanshyam Jadhav

Author

Ghanshyam Jadhav

Technical Content Writer