वेबसाइट कैसे बनाया जाता है?

वेबसाइट कैसे बनाया जाता है?
Ghanshyam Jadhav

Ghanshyam Jadhav

March 22 2024

13.5k

वेबसाइट बनाने के लिए, पहले अपना लक्ष्य निर्धारित करें, फिर डोमेन नाम चुनें और वेब होस्टिंग की व्यवस्था करें। वेबसाइट को दो तरीकों से बनाया जा सकता है - कोडिंग या वेबसाइट बिल्डर का उपयोग करके।

आपने वह कहावत तो सुनी होगी, "यदि आप ऑनलाइन नहीं हैं, तो आप व्यापार से बाहर हैं!" यह बात आज के डिजिटल युग में और भी अधिक सत्य है। आप चाहे कलाकार हों, फोटोग्राफर हों, छोटे व्यापार का संचालन करें या अपने विचारों को दुनिया के साथ साझा करना चाहते हों, एक वेबसाइट आपकी पहचान बन सकती है।

लेकिन सुनते ही आपको लगा होगा कि "वेबसाइट बनाना बहुत तकनीकी होगा, ये मेरी सामर्थ्य से बाहर है!" लेकिन चिंता न करें। आज हम आपको यह बताएंगे कि वेबसाइट बनाना उतना कठिन नहीं है, जितना आप समझ रहे हैं।

इस ब्लॉग पोस्ट में, हम वेबसाइट निर्माण की प्रक्रिया को सरल चरणों में समझाने जा रहे हैं। हम आपको कुछ मुफ्त और प्रीमियम विकल्पों के बारे में भी बताएंगे, ताकि आप अपने आवश्यकताओं और बजट के अनुसार चुन सकें। तो चलिए, शुरुआत करते हैं!

1. सबसे पहले, अपना लक्ष्य निर्धारित करें

वेबसाइट बनाने से पहले आपको यह सोचना होगा कि आप इसे किस उद्देश्य के लिए बना रहे हैं। क्या आप एक ऑनलाइन स्टोर खोलना चाहते हैं? या शायद आप अपने पोर्टफोलियो को विश्व के सामने प्रदर्शित करना चाहते हैं। या फिर आप एक ब्लॉग बनाना चाहते हैं ताकि आप अपने विचारों को लोगों तक पहुंचा सकें।

अपने उद्देश्य को निर्धारित करने से आपको समझने में सहायता मिलेगी कि आपकी वेबसाइट कैसी दिखनी चाहिए और उसमें कौन से विशेषताएं होनी चाहिए। उदाहरण स्वरूप, यदि आप एक फोटोग्राफर हैं, तो आपकी वेबसाइट में आपके श्रेष्ठ फोटोग्राफी को प्रदर्शित करने के लिए उपयुक्त लेआउट होना चाहिए। वहीं, यदि आप ऑनलाइन स्टोर खोल रहे हैं, तो भुगतान गेटवे और सरल चेकआउट प्रणाली अनिवार्य है।

2. डोमेन नाम चुनिए

अब बात करते हैं आपकी वेबसाइट के पते की, जिसे डोमेन नाम कहते हैं। यह वह नाम होता है जिसे लोग ब्राउज़र में टाइप करके आपकी वेबसाइट पर आते हैं। इसे आपका ऑनलाइन पता मान सकते हैं।

एक उत्तम डोमेन नाम संक्षिप्त, स्मरण करने में सरल और आपकी वेबसाइट के उद्देश्य को प्रतिबिंबित करने वाला होना चाहिए। उदाहरण स्वरुप, यदि आप एक फोटोग्राफर हैं, तो आपका डोमेन नाम "tusharphotography.com" या "tusjar.photography" हो सकता है।

आप डोमेन नामों को रजिस्ट्रार कंपनियों से खरीद सकते हैं। कई वेब होस्टिंग कंपनियां फ्री डोमेन नाम भी प्रदान करती हैं, जिसका वर्णन हम अगले सेक्शन में करेंगे।

3. वेब होस्टिंग की व्यवस्था

वेबसाइट को इंटरनेट पर प्रदर्शित करने के लिए, उसे किसी स्थान पर संग्रहित करना पड़ता है। इस स्थान को हम वेब होस्टिंग कहते हैं। आप इसे अपने वेबसाइट का निवास स्थान समझ सकते हैं।

ऐसी कई वेब होस्टिंग कंपनियां हैं जो यह सेवाएं प्रदान करती हैं। ये कंपनियां आपकी वेबसाइट की फ़ाइलों को अपने सर्वरों पर संग्रहित करती हैं, ताकि लोग उन्हें इंटरनेट के माध्यम से देख सकें।

आपको अपने जरूरतों और बजट के अनुसार वेब होस्टिंग प्लान का चयन करना होगा। फ्री वेब होस्टिंग विकल्प उपलब्ध हैं, लेकिन ध्यान दें कि इनमें आमतौर पर स्टोरेज की सीमाएं होती हैं और आप अपनी वेबसाइट को पूरी तरह से कस्टमाइज़ नहीं कर पाएंगे।

4. वेबसाइट को दो तरीकों से बनाएं

वेबसाइट बनाने के लिए आप दो विकल्पों में से किसी एक का चयन कर सकते हैं:

1. कोडिंग करना:

यह तरीका थोड़ा तकनीकी है, परंतु यदि आप वेबसाइट डिजाइन और डेवलपमेंट की दुनिया में शामिल होना चाहते हैं, तो इसे मजेदार भी माना जा सकता है। वेबसाइट बनाने के लिए तीन मुख्य कोडिंग भाषाएँ हैं: HTML, CSS और JavaScript।

  • HTML (HyperText Markup Language): यह वेबसाइट की मूल संरचना को निर्धारित करता है। इसे टेक्स्ट, इमेजेज और लिंक्स को जोड़ने के लिए टैग्स का उपयोग किया जाता है।
  • CSS (Cascading Style Sheets): यह वेबसाइट के डिज़ाइन और स्टाइल को नियंत्रित करता है। इसमें फ़ॉन्ट, रंग, लेआउट आदि का सेट अप किया जाता है।
  • JavaScript: यह वेबसाइटों को इंटरैक्टिव बनाने में मदद करता है। इसका उपयोग करके आप एनिमेशन, फॉर्म वैलिडेशन, और अन्य विशेषताएं जोड़ सकते हैं।

कोडिंग सीखने के लिए बहुत सारे ऑनलाइन संसाधन उपलब्ध हैं। आप मुफ्त कोडिंग ट्यूटोरियल्स और कोर्स खोज सकते हैं, लेकिन इसमें कुछ समय और मेहनत लगती है।

2. वेबसाइट बिल्डर का इस्तेमाल:

यदि आप कोडिंग से परिचित नहीं हैं या आप जल्दी से एक आकर्षक वेबसाइट बनाना चाहते हैं, तो वेबसाइट बिल्डर आपके लिए उत्तम विकल्प हो सकता है। वेबसाइट बिल्डर एक ड्रैग-एंड-ड्रॉप उपकरण होता है जिसकी सहायता से आप आसानी से वेबसाइट तैयार कर सकते हैं। इसमें आपको केवल पाठ, चित्र और अन्य सामग्री को पूर्व-निर्मित टेम्पलेट में खींचकर छोड़ना होता है।

बहुत सारे वेबसाइट बिल्डर मुफ्त प्लान प्रदान करते हैं, जिनमें मौलिक सुविधाएं शामिल होती हैं। भुगतान योजनाओं में आपको अपनी वेबसाइट को अधिक कस्टमाइज़ करने की क्षमता मिलती है, साथ ही आपको स्टोरेज और बैंडविड्थ की अधिक सीमा भी मिलती है।

5. अपनी वेबसाइट को डिज़ाइन करें

चाहे आप कोडिंग कर रहे हों, या वेबसाइट बिल्डर का उपयोग कर रहे हों, अब आपकी बारी है अपनी वेबसाइट को आकर्षक बनाने की!

कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखें:

  • सरल और स्पष्ट डिजाइन: जटिल डिजाइन से लोग भ्रमित हो सकते हैं। स्पष्ट और सरल लेआउट का उपयोग करें, ताकि उपयोगकर्ताओं को आवश्यक जानकारी आसानी से प्राप्त हो सके।
  • रेस्पोंसिव डिजाइन: आजकल, अधिकांश लोग स्मार्टफोन और टैबलेट का उपयोग करके इंटरनेट ब्राउज़ करते हैं। इसलिए, आवश्यक है कि आपकी वेबसाइट सभी उपकरणों पर सही ढंग से दिखे। रेस्पोंसिव डिजाइन वाली वेबसाइट स्वयं को स्क्रीन के आकार के अनुसार समायोजित कर लेती है।
  • उच्च गुणवत्ता वाले छवियां और वीडियो: आकर्षक और उच्च गुणवत्ता वाली छवियां और वीडियो, आपकी वेबसाइट को प्रोफेशनल लुक प्रदान करते हैं।

6. कंटेंट is king!

वेबसाइट की डिज़ाइन कितनी भी उत्कृष्ट हो, यदि उसमें उच्चतम गुणवत्ता का कंटेंट नहीं है, तो वह सफल नहीं हो सकती। कंटेंट ही वह तत्व है जो लोगों को आपकी वेबसाइट में आकर्षित करता है और उन्हें वहां बने रहने के लिए प्रेरित करता है।

अपनी वेबसाइट के लिए संबंधित और उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री लिखें। यह आपके उद्देश्य के अनुसार होना चाहिए। उदाहरण के लिए, यदि आप एक फोटोग्राफर हैं, तो आप अपनी फोटोग्राफी तकनीकों के बारे में ब्लॉग लिख सकते हैं।

Conclusion

आपने देखा, वेबसाइट बनाना उत्तेजक लेकिन जटिल नहीं है! ऊपर बताए गए सरल चरणों का पालन करके, आप अपनी खुद की वेबसाइट तैयार कर सकते हैं और डिजिटल दुनिया में अपनी पहचान स्थापित कर सकते हैं।

ध्यान दें, किसी भी काम को सीखने में समय चाहिए। यदि आप निरंतर कठिनाई से जूझते और सीखते हैं, तो आप अपनी वेबसाइट को सफलता की ऊचाईयों तक ले जा सकते हैं।

Ghanshyam Jadhav

Author

Ghanshyam Jadhav

Content Writing

Ghanshyam has experience running blogs and making money online using AdSense and affiliate marketing. When he is not writing, he likes to travel and hike to spiritual places.